अमरोहा (यूपी) : अमरोहा क्षेत्र की हसनपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव रझोया निवासी रेखा को भविष्य दर्पण संस्था ने सम्मानित किया। संस्था अध्यक्ष अंकुश मित्तल बताते हैं कि रेखा चौहान जिनके हौसले की कहानी आज हम सभी के लिए मिसाल बनी है। रेखा के संघर्ष की कहानी आज हम सभी ने उनके मुंह जुबानी सुनी तो सभी की आंखें नम हो गई। और एक अद्भुत प्रेरणा एवं अद्भुत संकल्प शक्ति का एहसास हुआ।

जिससे प्रेरणा लेकर संकल्प शक्ति समाज के हर वर्ग हर नागरिक को प्राप्त हो। और वह भी अपने जीवन में कठिनाइयों से लड़ते हुए अपने द्वारा निश्चित की गई हर मंजिल को प्राप्त कर सकें। रेखा जब 11 वर्ष की थीं तो उनके दोनों हाथ कुट्टी काटने वाली मशीन में आकर कट गए थे।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

जिसके बाद रेखा ने अपनी दुर्बलता को अपनी सफलता बनाया और वह जीवन से संघर्ष करती रहीं। अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूर्ण की और उसके पश्चात जब पैरों से लिखने का प्रयास कर रही थी तो उसमें असफल होने के बाद उन्होंने अपने मुंह से कलम पकड़ने का निश्चय किया। और इस निश्चय को दृढ़ संकल्प बना लिया वह इसी सफर में इंटरमीडिएट से लेकर b.a. और B.Ed की परीक्षा में पूर्ण कर चुकी है।

रेखा बताती है मेरे हाथ कटने के बाद भी मेरे हौसलों ने उड़ाने नहीं छोड़ी और लगातार दृढ़ निश्चय कर आगे बढ़ती रही। जिसके चलते भविष्य दर्पण संस्था ने जनता को जागरूक भी किया है साथ ही रेखा के जीवन पर प्रकाश डालते हुए लोगों को उनसे सीखने का संकल्प भी दिलाया है। सुमित सैनी बताते हैं कि रेखा ने अपने जीवन में जैसे-जैसे संघर्ष किया। कठिनाइयों के साथ गुजारा किया और समाज को शिक्षित बनाने के लिए स्वयं भी शिक्षा ग्रहण की। उनके जीवन से सीख लेकर लोगों को शिक्षित बनाना चाहिये।

समाज एवं देश को नई प्रतिभा विकास के मार्ग पर शिक्षा के लिए देनी चाहिये। इस अवसर पर अध्यक्ष अंकुश मित्तल, कोषाध्यक्ष रितिक सैनी, मुख्य शाखा प्रबंधक सुमित सैनी, सदस्य अपूर्व मित्तल आदि मौजूद रहे।

ब्यूरो रिपोर्ट, मुजम्मिल हुसैन. अमरोहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here