नई दिल्ली : मोदी सरकार के कृषि बिल के खिलाफ लगातार किसानों का प्रदर्शन बढ़ता ही जा रहा है, मोदी सरकार और किसानों के बीच पांचवें दौर की बातचीत बेनतीजा रहने के बाद किसानों ने 8 दिसंबर को ‘भारत बंद’ का आह्वान किया है.

निर्भय सिंह धुडिके ने कहा, ‘हमारा विरोध केवल पंजाब तक सीमित नहीं है, कनाडा के PM जस्टिन ट्रूडो जैसे दुनिया भर के नेता भी हमें समर्थन दे रहे हैं, हमारा विरोध शांतिपूर्ण है.’

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

दर्शन पाल ने कहा कि कल पूरे दिन भारत बंद रखा जाएगा, दोपहर 3 बजे तक चक्का जाम रहेगा, लेकिन यह एक शांतिपूर्ण बंद होगा.

राजनीतिक पार्टियों द्वारा भारत बंद को समर्थन दिए जाने पर पाल ने कहा कि हम अपने मंच पर किसी भी राजनीतिक नेताओं को अनुमति नहीं देने पर दृढ़ हैं.

लुधियाना से प्रधान पंजाब ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के चरणजीत सिंह लोहारा ने कहा कि ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने किसानों के समर्थन में 8 दिसंबर को चक्का जाम करने का फैसला किया है.

परिवहन संघ, ट्रक यूनियन, टेंपो यूनियन सभी ने बंद को सफल बनाने का फैसला किया है, यह बंद पूरे भारत में होगा.

किसानों के भारत बंद को कांग्रेस और बाकी कई पार्टियों ने भी अपना समर्थन दिया है, कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस ने 8 दिसंबर को भारत बंद का समर्थन करने का फैसला किया है.

दिल्ली की सत्तासीन आप ने कहा कि उनके कार्यकर्ता भी भारत बंद में शामिल होंगे और सड़क पर उतरेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here