लखनऊः बहुजन समाज पार्टी ने मुस्लिम कार्ड खेलते हुए राज्य की कमान पूर्व राज्यसभा सांसद बाबू मुनकाद अली को सौंपी है। बसपा की तरफ से जारी एक प्रेस नोट में यह जानकारी दी गई है। इस प्रेस नोट में कहा गया है कि बसपा सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय की पार्टी है। इसके मद्देनज़र रखते हुए आबादी के हिसाब से देश के सबसे बड़े सूबे की राज्य स्तरीय संघठन में कुछ तब्दीलियां की गई हैं।

बसपा की तरफ से जारी इस प्रेस नोट में यह भी कहा गया है कि बाबू मुनकाद अली ने अपने राजनीतिक सफर का आगाज़ भी बसपा से ही किया था और हर दुःख, सुःख में पार्टी के लिये समर्पित होकर कार्य किया। बाबू मुनकाद को अली को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के साथ साथ उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष रहे आर एस कुशवाहा को बसपा केन्द्रीय इकाई का महासचिव बनाया गया है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

दानिश अली की छुट्टी

एक तरफ जहां पश्चिमी उत्तर प्रदेश से आने वाले बाबू मुनकाद अली को प्रदेश की कमान सौंपी गई, वहीं पश्चिमी यूपी के अमरोहा से लोकसभा सांसद कुंवर दानिश अली को लोकसभा में बीएसपी दल के नेता से हटा दिया गया है, उनके स्थान पर जौनपुर सांसद श्याम सिंह यादव को लोकसभा में बीएसपी दल का नेता बनाया गया है। बसपा ने दानिश अली को हटाए जाने की पीछे तर्क दिया है कि इससे सर्व समाज में सामंजस्य बना रहेगा। वहीं रितेश पांडेय को संसद में डिप्टी लीडर नियुक्त किया गया है, और सांसद  गिरीश चंद जाटव लोकसभा में बसपा के चीफ व्हीप बने रहेंगे।

कौन हैं मुनकाद अली

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के कस्बा किठौर के रहने वाले बाबू मुनकाद अली ने अपने राजनीतिक सफर का आगाज़ बसपा से किया था। वे दो बार राज्य सभा सांसद रह चुके हैं, इसके साथ ही वे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी भी रहे हैं। किठौर नगर पंचायत सीट पर भी बसपा प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली की पुत्रवधू काबिज़ हैं। बाबू मुनकाद अली को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने पर लोगों ने उन्हें मुबारकबाद देनी शुरू कर दी हैं। मुबारकबाद देने वालों में चौधरी अब्दुल क़ादिर, अब्दुल मकिल (सभासद) मनीष कुमार (मोनू) मुकेश आज़ाद) शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here