Urdu

Epaper Urdu

YouTube

Facebook

Twitter

Mobile App

Home भारत पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का दिल का दौरा पड़ने से निधन

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का दिल का दौरा पड़ने से निधन

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का देर रात दिल्ली के AIIMS में निधन हो गया है। सुषमा स्वराज 67 साल की थीं और 2014 से 2019 तक भारत की विदेश मंत्री रहीं। उनके कार्य करने की शैली सबसे अलग थी, अपने विदेश मंत्री कार्यकाल के दौरान उन्होंने विदेश में फंसे कई भारतीयों की मदद की थी, इतना ही नहीं उन्होंने ट्विटर पर लोगों की शिकायतें देखीं तो तुरंत एक्शन लिया।

उनके निधन की ख़बर पर पूर्व सांसद एंव भाजपा के नेता रहे डॉक्टर उदित राज ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए ट्विट किया है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज जी का हमारे बीच ना रहना अत्यंत खेद है। भारतीय राजनीति से एक प्रखर वक़्ता एवं नेता का अभाव हमेशा रहेगा।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

सुषमा स्वराज का जन्म पंजाब के अंबाला में हुआ था, उन्होंने पंजाब विश्विद्यालय से शिक्षा प्राप्त की थी। सुषमा भाजपा का शुमार भाजपा के  चोटी के नेताओ में होता था, यूपीए के दूसरे कार्यकाल में उन्होंने बेहतरीन विपक्ष के नेता की भूमिका अदा की थी। वे भाजपा की प्रवक्ता भी रहीं, और अटल बिहार सरकार एंव मोदी सरकार में केन्द्रीय मंत्री रहीं।

सोनिया गांधी से हारीं थीं चुनाव

सुषमा स्वराज ने अपनी विरोधी पार्टी की नेता सोनिया गांधी के ख़िलाफ कर्नाटक की बेल्लारी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था, लेकिन वे जीत दर्ज नही कर पाईं थीं। जब 2004 में यूपीए को बहुमत मिला और अटकलें लगीं की अब सोनिया गांधी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगी तब सुषमा ने सबसे पहले सोनिया गांधी के विदेशी होने का मुद्दा उठाया था, उसके बाद सोनिया गांधी ने खुद ही प्रधानमंत्री बनने से इनकार कर दिया और डॉक्टर मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी।  

पासपोर्ट मामले में हिन्दुवादियो ने किया था ट्रोल

सुषमा स्वराज को साल भर पहले सोशल मीडिया पर निशाना बनाया गया था, निशाना बनाने वाले कोई और नहीं बल्कि उनकी खुद की पार्टी के वे समर्थक थे जो सांप्रदायिकता के सहारे अपनी राजनीति चमकाना चाहते है। दरअस्ल लखनऊ में एक हिन्दु महिला जिसने एक मुस्लिम से शादी कर रखी थी, उसने पासपोर्ट के लिये आवेदन किया था, जिसके बाद पासपोर्ट अधिकारी ने उस महिला को एक मुस्लिम से शादी करने को लेकर अपमानित किया था। पीड़ित महिला ने ट्विट पर इसकी शिकायत विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से कर दी जिसके बाद संबंधित अधिकारी का तबादला कर दिया गया और उस दंपत्ति को पासपोर्ट जारी किया गया था। कुछ कट्टरपंथी विदेश मंत्री द्वारा पासपोर्ट अधिकारी पर कार्रवाई करने के खिलाफ थे उन्होंने अपना गुस्सा सोशल मीडिया पर निकाला और तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को महीनों तक ट्रोल किया, उनके लिये अभद्र टिपप्णियां की गईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

डाॅ. जोगिंदर के परिजनों को एक करोड़ रुपये की सहायता राशि दी, भविष्य में भी परिवार की हर संभव मदद करेंगे : CM केजरीवाल

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज डाॅ. बाबा साहब अंबेडकर मेडिकल हाॅस्पिटल एंड काॅलेज में एड-हाॅक पर जूनियर रेजिडेंट रहे कोरोना...

गुजरात : पत्रकार कलीम सिद्दीकी को तड़ीपार का नोटिस, देश भर में हो रही है आलोचना, बोले कलीम- ‘नोटिस कानून व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह’

ऩई दिल्ली/अहमदाबाद : 30 जुलाई को पत्रकार कलीम सिद्दीकी अहमदाबाद शहर के एसीपी कार्यालय में उपास्थि हो कर तड़ीपार मामले में अपना...

बिहार: तेज प्रताप यादव ने किया बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा, बोले- ‘CM का सारा सिस्टम हो गया फेल, बिहार की जनता बेहाल’

नई दिल्ली/बिहार: बिहार इस समय दो-दो आपदाओं की मार झेल रहा है, कोरोना के साथ ही बाढ़ से त्राहिमाम मचा हुआ है,...

भोपाल : बोले दिग्विजय सिंह- “राम मंदिर का शिलान्यास कर चुके हैं राजीव गांधी”

नई दिल्ली/भोपाल : राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यस के मुहूर्त को लेकर सवाल उठाए हैं, उन्होंने 5...

सहसवान : नगर अध्यक्ष शुएब नक़वी आग़ा ने मनाया रक्षा बंधन पर्व, पेश की गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल

सहसवान/बदायूँ (यूपी) : रक्षाबंधन पर्व की यही विशेषता है कि यह धर्म-मज़हब की बंदिशों से परे गंगा-जमुनी तहज़ीब की नुमाइंदगी करता है,...