नई दिल्ली : दिग्विजय सिंह ने कहा कि पीएम मोदी की हठधर्मिता पार्टी को महंगी पड़ेगी, किसान सिर्फ कृषि कानून वापस लेने की मांग कर रहे हैं, साथ ही चर्चा के बाद कानून बनाने की बात कह रहे हैं.

इसमें कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए, दिग्विजय सिंह ने कहा सरकार कानूनों को स्थगित करने का प्रस्ताव रख रही है, इसके लिए भी तो अध्यादेश लाना पड़ेगा, अध्यादेश लाकर अगले आदेश तक कृषि कानून स्थगित करें, बात खत्म हो जाएगी.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

दिग्विजय सिंह ने कहा सरकार पर किसान कैसे भरोसा करें, कौन सा वादा पूरा किया है, कृषि कानून स्थगित करने के लिए अध्यादेश लाएं और फिर चर्चा करने JPC का गठन करें.

दिग्विजय सिंह ने कहा अभी तक तो इंटरनेट कश्मीर में ही बंद किया जाता था, अब यह घाटी से नीचे मैदान में आ गया है, हरियाणा के कई जिलों में इंटरनेट बंद कर दिया गया है.

चीन, पाकिस्तान की सीमा पर इतनी जबरदस्त नाकेबंदी नहीं है जितनी दिल्ली के बॉर्डर पर की गई है, राहुल गांधी सही कह रहे हैं कि ज़रूरत पुल बनाने की है दीवार खड़ी करने की नहीं , पीएम को हठधर्मिता छोड़कर तीनों कानून वापस लेने के लिए तत्काल अध्यादेश लेकर आना चाहिए.

दिग्विजय सिंह ने कहा देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया जा रहा है, बॉर्डर को सील करके कीलें गाड़ी जा रही हैं, यह सरकार के भयभीत होने के ही लक्षण हैं.

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पर पलटवार करते हुए उन्हें सलाह दी कि अपना घर पहले संभालें, दतिया में कैसे उन्होंने लोगों पर जुल्म ढा रखा है, अगला आंदोलन तो दतिया में होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here