लखनऊः ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलेमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी आज लखनऊ पहुंचे। यहां इन्होंने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर से मुलाक़ात की। इस दौरान पीस पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अब्दुल मन्नान ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर एआईएमआईएम की सदस्यता ली।

डॉक्टकर मन्नान ने कहा कि पीस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर मीम पार्टी के सदर जनाब असदुद्दीन ओवैसी साहब की मौजूदगी में मैने मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी जॉइन किया, छात्र राजनीति से लेकर आजतक मेरा मकसद सिर्फ़ हिंदुस्तान में मुस्लिम पोलिटिकल अप्लिफटमेन्ट का रहा है और इंशाल्लाह ज़िन्दगी भर अपनी क़ौम के लिए भारत मे सियासी हिस्सेदारी के लिए संघर्ष करता रहूंगा।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

राजनीतिक गलियारे में चर्चा शुरु

योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके ओमप्रकाश राजभर की पार्टी के फिलहाल चार विधायक हैं। माना जा रहा है कि राजभर और ओवैसी छोटी पार्टियों को साथ लेकर बिहार की तर्ज़ पर फिर से नया गठबंधन बनाने जा रहे हैं। ऐसे भी कयास लगाए जा रहे हैं कि इस गठबंधन में मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल यादव की पार्टी का साथ लिया जा सकता है। बता दें कि 2017 के विधानसभा चुनाव के बाद शिवपाल यादव सपा से अलग हो गए थे, और उन्होंने अपनी अलग पार्टी बना ली थी।

ओवैसी की पार्टी ने बिहार विधानसभा चुनाव में पांच सीटें जीतीं हैं, इस जीत से उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं के हौसले बुलंद हैं। वे बिहार के प्रदर्शन को यूपी में होने वाले 2022 के चुनाव में दोहराना चाहते हैं। बता दें कि ओमप्रकाश राजभर ने लगभग एक साल तक यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री बने रहने के बाद मंत्रीपद से इस्तीफा दे दिया था, और एनडीए से अलग हो गए थे। पूर्वांचल में राजभर समुदाय का वोट अच्छी खासी मात्रा में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here